तेरी कमी

​    ज़िंदगी है बहुत छोटी ये,

                      पर तमन्नाए है बड़ी मेरी |

    आज पास सबकुछ है मेरे,

                      पर फिर भी है कमी तेरी |


    लौट कर आ जा, ए जाने वाले,

             खाली पड़ी है ये दिल की ज़मी मेरी |

    आँसू बन कर बह जाती है,

                       यादो की नमी तेरी |

    पा लिए ग़म जितने पाने थे,

         अब तो ख़्वाहिश है सिर्फ तू ही मेरी |

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s